Tuesday, June 23, 2009

विंध्य नदी घाटी ने खोला जीवन के इतिहास का नया अध्याय

भारत के विंध्य नदी घाटी के जीवाश्मों के एक नए अध्ययन के मुताबिक धरती पर जीवन की शुरुआत पहले के अनुमान से 40 करोड़ साल पहले हुई है। कर्टिन तकनीकी विश्वविद्यालय के ब्रिगर रासमुसेन की अगुवाई में अंतरराष्ट्रीय शोधकर्ताओं के एक दल ने भारत के विंध्य घाटी के कुछ नमूनों का अध्ययन किया और पाया कि यहां के जीवाश्म 1.6 अरब साल पुराने हैं। यह पहले के यहां पाए गए जीवाश्मों से एक अरब साल पुराने हैं। धरती के किसी भी हिस्से में पाए गए जीवाश्मों से ये 40 से 60 करोड़ साल पुराने हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक उन्होंने इस काम के लिए दुनिया की सबसे बेहतरीन तकनीक का इस्तेमाल किया। प्रो रासमुसेन ने बताया कि जीवाश्म के शुद्ध परीक्षण के लिए सारे प्रयास किए गए। उनका कहना था कि भारतीय प्रयोगशालाओं में पहले हुई जांचों में त्रुटि हो सकती है। उन्होंने बताया कि जीवाश्म के आयु निर्धारण के लिए उसमें मौजूद फास्फोरेट का लेड डेटिंग किया गया। करोड़ों साल पहले जीवाश्मीकरण की प्रक्रिया में समुद्र तल पर फास्फोरेट कार्बनिक पदार्थों पर जमा होने लगे। उनका कहना था कि यह पद्धति काफी सटीक होती है। (भाषा)
Post a Comment

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...